" मेरा पूरा प्रयास एक नयी शुरुआत करने का है। इस से विश्व- भर में मेरी आलोचना निश्चित है. लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता "

"ओशो ने अपने देश व पूरे विश्व को वह अंतर्दॄष्टि दी है जिस पर सबको गर्व होना चाहिए।"....... भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री, श्री चंद्रशेखर

"ओशो जैसे जागृत पुरुष समय से पहले आ जाते हैं। यह शुभ है कि युवा वर्ग में उनका साहित्य अधिक लोकप्रिय हो रहा है।" ...... के.आर. नारायणन, भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति,

"ओशो एक जागृत पुरुष हैं जो विकासशील चेतना के मुश्किल दौर में उबरने के लिये मानवता कि हर संभव सहायता कर रहे हैं।"...... दलाई लामा

"वे इस सदी के अत्यंत अनूठे और प्रबुद्ध आध्यात्मिकतावादी पुरुष हैं। उनकी व्याख्याएं बौद्ध-धर्म के सत्य का सार-सूत्र हैं।" ....... काज़ूयोशी कीनो, जापान में बौद्ध धर्म के आचार्य

"आज से कुछ ही वर्षों के भीतर ओशो का संदेश विश्वभर में सुनाई देगा। वे भारत में जन्में सर्वाधिक मौलिक विचारक हैं" ..... खुशवंत सिंह, लेखक और इतिहासकार

प्रकाशक : ओशो रजनीश | सोमवार, अक्तूबर 25, 2010 | 32 टिप्पणियाँ

"मेरा कार्य गौतम बुद्ध के कार्य से बिलकुल भिन्न है। उनका कार्य मेरे दर्शन का एक छोटा सा हिस्सा है।

मैं चाहता हूं कि व्यक्ति संबोधी को प्राप्त हो, लेकिन मैं चाहता हूं कि उस व्यक्ति के जागने के

साथ संपूर्ण मनुष्य जाति का उत्थान हो, वे भले उपलब्ध न हों लेकिन इतने जागरूक

तो हो ही जायें कि राष्ट्र मिट जायें,धर्म मिट जायें,जातियां मिट

जायें और हम एक धरती पर एक मानवता

की तरह जी सकें।"

ओशो

32 पाठको ने कहा ...

  1. manu says:

    :)

    sach much...hansi kaa vishay hai...

    krapayaa aap bhi ise gambhirataa se naa lein.....

  2. manu says:

    hamaare blog par kabhi aayein

    :)

  3. बहुत सुन्दर प्रस्तुति है। आप इसी तरह अपना ज्ञान लोगों में बांटते चलिए

  4. यहाँ आकर हमेशा ही अच्छी जानकारी मिलती है ...

  5. मनु जी आभार आपका मेरे ब्लॉग पर आने के लिए ....
    आप अपनी टिप्पणियों में जो कहना चाहते है वो कृपया स्पस्ट कहे ....

  6. कविता की ज्यादा समझ नहीं रखता इसलिए सिर्फ अच्छी प्रस्तुति या फिर बढ़िया जैसे शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया आपके ब्लॉग पर ...... क्षमा करे इसके लिए ....

  7. aditya shaw says:

    ओशो भारत में जन्में सर्वाधिक मौलिक विचारक हैं,एक महान विद्वान, स्पष्ट चिंतन वाले और नये विचारों के जन्मदाता हैं ।

    जिसने भी कहा है सही कहा है

  8. manu says:

    ham jab bhi kahte hain..aap hamaare blog par aate hain..

    binaa kahe kabi bhi nahin aate..


    :)

    majedaar...




    aur ham binaa kahe aate hain.....

    ye bhi ek tarah se majedaar...

  9. Vikas Singh says:

    सच में बहुत ही सुन्दर पंक्तियाँ हैं ये.. वाह..ओशो का ये कथन पहली बार पढ़ा.. आभार आपका..

  10. चलिए मनु जी आपकी इस समस्या का भी समाधान कर देते है ... FOLLOW करते है आपके ब्लॉग को .... हम भी आते रहेंगे आपके ब्लॉग पर और आप भी इसी तरह मिलते रहे ... आभार

  11. ANUPAM says:

    bahut hi sundar wyakya hai ji .. bahut badhayi aapko ..

  12. manu says:

    follow karne se kyaa hogaa...??

    jab ki osho ek hi the...

  13. बहुत बढ़िया ..... अच्छी व्याख्या की है

  14. इसे पढ़े, जरुर पसंद आएगा :-
    मुल्ला नसरुद्दीन की दास्तान- 93
    http://thodamuskurakardekho.blogspot.com/2010/10/93.html

  15. follow karne se kyaa hogaa...??

    jab ki osho ek hi the...

    आपके कहने का तात्पर्य नहीं समझा , कृपया स्पस्ट करे

  16. @ manu

    follow karne se kyaa hogaa...??

    jab ki osho ek hi the...

    आपके कहने का तात्पर्य नहीं समझा , कृपया स्पस्ट करे

  17. एक बहुत ही रोचक और उछ कोटि का , दर्शन देता हुआ सा आलेख
    बहुत ही गूढ़ जानकारी मिली, में इससे प्रभावित हुआ

    जानकारी बांटने के लिए दिल से आभार

  18. बहुत ही अच्छा लेख है ....... मंगल कम्नाये कि आप हमेशा ऐसा ही प्रभावशाली लिखते रहे ....

  19. बेनामी says:

    जानकारी बांटने के लिए दिल से आभार

  20. MUFLIS says:

    दृष्टिकोण.....
    प्रभावशाली है ....
    सोचने पर मजबूर तो करता ही है !!

  21. Basant Sager says:

    ओशो के शब्दों में एक अलग सा जादू है ...... उनके शब्द मन को झकझोर देते है

  22. Basant Sager says:

    आपने ये बहुत अच्छा कार्य किया है की आपने छोटी-छोटी पोस्ट के रूप में हमें ओशो के शब्दों से रु-ब-रु करवाया है ...... आभार

  23. बेनामी says:

    osho ke bare me bahut suna tha .. aaj jaan bhi liya

  24. Sachin says:

    अच्छा लिखा है ..

  25. Usman says:

    .. सुंदर शब्द

  26. आभार इस प्रस्तुति के लिए. ओशो दर्शन बहुत प्रभावित करता है.

  27. aapka kary sundar hai....osho ke shabdo ki amratdhara se bheeg jane k liye hamesha tatpar.......thanxx

Leave a Reply

कृपया अपनी प्रतिक्रिया देते समय संयमित भाषा का इस्तेमाल करे। असभ्य भाषा व व्यक्तिगत आक्षेप करने वाली टिप्पणियाँ हटा दी जायेंगी। यदि आप इस लेख से सहमत है तो टिपण्णी देकर उत्साहवर्धन करे और यदि असहमत है तो अपनी असहमति का कारण अवश्य दे .... आभार